बिजली दर वृद्धि की आपत्तियों पर आयोग ने तलब किया जवाब - Bichhu.com

बिजली दर वृद्धि की आपत्तियों पर आयोग ने तलब किया जवाब

भोपाल (अनिरुद्ध सोनाने/बिच्छू डॉट कॉम)। लॉकडाउन समाप्त होने के बाद मप्र विद्युत विनियामक आयोग भी सक्रिय हो गया है। अब आयोग ने बिजली कंपनियों द्वारा दिए गए दर वृद्धि के प्रस्ताव पर कार्रवाई शुरू कर दी है। नई दरों को लेकर आए सुझाव और आपत्तियों पर संज्ञान लेते हुए आयोग ने तीनों बिजली कंपनियों से जवाब तलब किया है। इसके बाद ही नई बिजली की दरों पर आयोग फैसला करेगा। बिजली की नई दरें निर्धारित करने के लिए इस बार ओपन सुनवाई नहीं की जा रही है। सूत्रों की माने तो आयोग अगले माह बिजली की नई दरें निर्धारित कर सकता है। इस बार दर निर्धारण में कुछ बढ़ोत्तरी संभावित है। हालांकि इस बार कोरोना का असर दरों में वृद्धि पर पडऩा भी संभव है। गौरतलब है कि लॉकडाउन के पहले आयोग को 70 सुझाव और आपत्तियां मिली थीं। इसके बाद लॉकडाउन के चलते आयोग ने ऑनलाइन आपत्ति और सुझाव मांगे थे। जिससे इस अवधि में 130 सुझाव और आपत्तियां मिली हैं। इन्हीं आपत्तियों पर आयोग ने बिजली कंपनियों से जवाब तलब किया है। उधर, बिजली कंपनीं नगर निगम और किसानों को दी जाने बिजली को सर्वाधिक मंहगी करने के पक्ष में है। इसके तहत नगर निगम और अन्य नगरीय निकायों को जल प्रदाय और प्रकाश के लिए मिलने वाली बिजली 6.62 फीसदी और किसानों को मिलने वाली बिजली को 6.61 फीसदी तक महंगी करने का प्रस्ताव आयोग को दिया है।

2 हजार करोड़ की आय वृद्धि चाहती हैं कंपनियां
बिजली कंपनियों ने 2 हजार करोड़ का घाटा बताते हुए 6.62 फीसदी तक बिजली दरें बढ़ाने का प्रस्ताव आयोग को दिया है। गौरतलब है कि प्रदेश में बीते साल के अगस्त में बिजली के दाम बढ़ाए गए थे। अब फिर एक साल बाद नई दरें तय हो रही हैं। प्रचलित दरों पर कंपनियों को 39332 करोड़ रुपए का राजस्व मिलता है। अगर कंपनियों के प्रस्ताव पर दर वृद्धि की जाती है, तो कंपनियों को 41332 करोड़ का राजस्व मिलेगा, जो वर्तमान आय से 2 हजार करोड़ अधिक है।

दर वृद्धि से यह पड़ेगा असर
अभी इंदिरा गृह ज्योति योजना के तहत 100 यूनिट बिजली खपत पर बिल 100 रुपए आता है। वहीं 150 यूनिट बिजली खपत पर शेष 50 यूनिट पर करीब 350 रुपये का बिल आता है। दर वृद्धि होने पर यह राशि बढक़र 600 रुपए से अधिक होगी और 300 यूनिट तक बिजली का बिल करीब 2000 रुपए हो जाएगा। इसमें फिक्स चार्ज भी शामिल रहेगा।

वर्तमान में बिजली का टैरिफ

  • 50 यूनिट तक 4.5 रुपए प्रति यूनिट
  • 51 से 150 यूनिट 4.95 रुपए प्रति यूनिट
  • 151 से 300 यूनिट 6.30 रुपए प्रति यूनिट
  • 300 यूनिट से अधिक 6.50 रुपए प्रति यूनिट

बढ़ाए जाने के लिए प्रस्तावित टैरिफ

  • 50 यूनिट तक 4.35 रुपए प्रति यूनिट
  • 51 से 150 यूनिट 5.25 रुपए प्रति यूनिट
  • 151 से 300 यूनिट 6.60 रुपए प्रति यूनिट
  • 300 यूनिट से अधिक 6.80 रुपए प्रति यूनिट

Related Articles