पाकिस्तान के आतंकी संगठन बन गए हैं भस्मासुर - Bichhu.com

पाकिस्तान के आतंकी संगठन बन गए हैं भस्मासुर

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के कराची स्थित स्टॉक एक्सचेंज में हुए आतंकी हमले ने इस्लामाबाद को हिला दिया है। देश की आर्थिक राजधानी कहे जाने वाले कराची में इस हमले ने पाकिस्तान को ये सबक तो दे ही दिया है उसके पाले आतंकी उसी के लिए भस्मासुर बनते जा रहे हैं। आलम ये है कि पाकिस्तान के पीएम इमरान खान दुनिया के मोस्ट वांटेड आतंकी ओसामा बिन लादेन को शहीद कह चुके हैं। अपनी जमीन का इस्तेमाल भारत समेत दूसरे मुल्कों के लिए आतंकी गतिविधियों के लिए इस्तेमाल करने की इजाजत देने वाला इस्लामाबद आज खुद लहूलुहान है। कराची हमले में 5 लोगों की मौत हुई है। इस हमले ने साबित कर दिया है कि पाक के आतंकी ग्रुप उसी पर भारी पड़ रहे हैं।
आतंकियों को खाद-पानी देता रहा है पाकिस्तान
भारत के खिलाफ लगातार आतंकी गतिविधियों के लिए खाद-पानी मुहैया कराने वाले पाकिस्तान पूरी दुनिया में इस कारण बदनाम हो चुका है। दुनिया के देश उसे आतंकियों को सुरक्षित पनाहगाह मानते रहे हैं। अब उसके पाले-पोसे आतंकी ही उसे नुकसान पहुंचा रहे हैं। पाकिस्तान में गत कई सालों में कई आतंकी हमले हुए हैं। जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा जैसे आतंकी संगठनों को अपनी जमीन मुहैया कराने वाले पाकिस्तान ने इन आतंकी संगठनों का इस्तेमाल कई बार अपने फायदे के लिए किया है। लेकिन कई बार उनके पाले ये भस्मासुर उन्हीं पर हमला करते रहते हैं। दुनिया का मोस्ट वांटेंड आतंकवादी ओसामा बिन लादेन भी पाकिस्तान में ही मारा गया था।
कई बार हो चुके हैं हमले
-2014 में पेशावर के आर्मी स्कूल में हुए एक आतंकी हमले में 141 से ज्यादा लोग मारे गए थे जिनमें 132 से ज्यादा बच्चे थे। इस हमले पूरी दुनिया को हिलाकर रख दिया था। इस हमले की जिम्मेदारी आतंकी सगंठन तहरीक-ए-तालिबान ने ली थी। जिसे खुद पाकिस्तान ने पाला था।
-2017 में सिंध प्रांत के शाहबाज कलंदर दरगाह में हुए एक आत्मघाती हमले में 100 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी।
-2017 में ही लाहौर में हुए एक ब्लास्ट में 16 लोगों की मौत हो गई थी। इसी साल 21 जनवरी को पाकिस्तान-अफगानिस्तान बॉर्डर के करीब धमाके की वजह 25 लोग मारे गए थे।
-7 अगस्त 2016 को क्वेटा के सिविल अस्पताल में एक आत्मघाती हमलावर ने खुद को उड़ा लिया था। इस हमले में 70 लोगों की मौत हुई थी।

Related Articles