उंगलियां चटकाने की आदत पड़ सकती है भारी - Bichhu.com

उंगलियां चटकाने की आदत पड़ सकती है भारी

Fingers may get used to licking

आपने देखा होगा की बहुत से लोग अपनी उंगलियां चटकाते रहते हैं, ऐसे बहुत से लोग हैं जिनको अपनी उंगलियां चटकाना बड़ा ही अच्छा लगता है और उनको अपनी उंगलियों को चटकाने में बड़ा आनंद भी महसूस होता है। कुछ व्यक्ति तो दिन में एक या दो बार अपनी उंगलियां चटकाते हैं परंतु कुछ लोग तो ऐसे होते हैं जो थोड़ी थोड़ी देर बाद ही जोर-जोर से अपनी उंगलियों को चटकाते रहते हैं परंतु आप लोगों ने यह कभी सोचा है कि बार-बार इन उंगलियों को चटकाने से हमको कितना बड़ा नुकसान होता है आइये जानते हैं

यदि उंगलियां चटकाई जाए तो इससे जोड़ों पर बुरा प्रभाव पड़ता है।  हम कुछ ऐसी जानकारियां बताने जा रहे हैं जिसको जानने के बाद आप अपनी उंगलियां कभी भी नहीं चटकायेंगें। आइए जानते हैं इसके बारे में….

गठिया रोग
यदि व्यक्ति अपनी उंगलियां बार-बार चटकाता है तो उसकी इस आदत की वजह से उसको गठिया जैसे दर्दनाक बीमारी का शिकार होना पड़ सकता है। जब हम बार-बार हम उंगलियां चटकाते हैं तो उनके बीच में जो ‘सिनोवाइल’ पदार्थ होता है वह कम होने लगता है। सबसे खतरनाक बात यह है कि अगर यह ‘सिनोवाइल’ नामक पदार्थ खत्म हो जाए तो हमें ‘गठिया’ जैसी बीमारी भी हो सकती है।  इसके साथ-साथ हड्डियों की आपस में पकड़ भी कमजोर हो जाती है।
इतना ही नहीं आपकी जानकारी के लिए बता दे कि  उंगलियों को चटकाने की आदत गठिया जैसी बीमारी का सबब बन सकती है क्योंकि उंगलियों की हड्डियां लिगामेंट से एक दूसरे से जुड़ी हुई होती है परंतु जब भी अपनी उंगलियों को चटकाते हैं तब इन हड्डियों में दरार आती है।

आपको बता दें कि उंगलियों की हड्डियां आपस में लिगामेंट से जुड़ी हुई होती है और हम जब बार-बार अपनी उंगलियों को चटकाते हैं तो उंगलियों के बीच में होने वाला लिक्विड कम होने लगता है और अगर यह लिक्विड समाप्त हो जाए तो हमें गठिया जैसी गंभीर बीमारी का सामना करना पड़ सकता है।

यदि कोई व्यक्ति अपनी उंगलियां बार-बार चटकाता है तो इससे उसकी हड्डियां बार-बार दूसरी हड्डी से खींचती है और अगर जोड़ों को बार-बार खींचा जाए तो इससे हमारी हड्डियों की पकड़ भी कमजोर बन जाती है जिसकी वजह से हमारी उंगली टूट भी जाती है।

Related Articles